Rajasthan ka Samanya Parichay

राजस्थान का सामान्य परिचय

Join Telegram

Rajasthan GK in Hindi राजस्थान क्षेत्रफल की दृष्टि से देश का सबसे बड़ा राज्य है, जो कि 1 नवंबर 2000 को मध्यप्रदेश से छत्तीसगढ़ का गठन होने के पश्चात राजस्थान देश में क्षेत्रफल की दृष्टि से सबसे बड़ा राज्य बन गया| राजस्थान का कुल क्षेत्रफल  342239 वर्ग कि.मी. है । जो कि देश के कुल क्षेत्रफल का 10.41% है क्षेत्रफल की दृष्टि से राजस्थान की तुलना की जाए तो श्रीलंका से 5 गुना, इजराइल से 17 गुना, इंग्लैंड से 2 गुना, जापान से थोड़ा कम है

Rajasthan ka Samanya Parichay

  • राजस्थानी भू भाग पर छठी शताब्दी के बाद राजपूत राज्यों का प्रारंभ हुआ| राजपूत राज्यों की प्रधानता के कारण है इसे राजपूताना कहा जाने लगा, ऋग्वेद में राजस्थान को ब्रह्मा व्रत, रामायण में वाल्मीकि ने राजस्थान प्रदेश को मरू कांतर  कहा
  • राजस्थान शब्द का प्राचीनतम प्रयोग 682 में उत्कीर्ण बसंतगढ़( सिरोही) के शिलालेख में  ‘ राजस्थानीयादित्य  मिलता है ।
  • राजपूताना शब्द का सर्वप्रथम प्रयोग 1800 ई. में जॉर्ज थॉमस ने किया
  • विलियम फ्रेंकलिन ने 1805 में ‘ Military Biographies ofMr. George Thomas ‘ नामक पुस्तक प्रकाशित की । उसमें उसने कहा कि जार्ज थॉमस सम्भवतः पहला व्यक्ति था, जिसने राजपूताना शब्द का प्रयोग इस भू- भाग के लिए किया था ।
  • कर्नल जेम्स टॉड ने राजस्थान  प्रदेश का नाम ‘ रायथान ‘ रखा क्योंकि स्थानीय साहित्य एवं बोलचाल की भाषा में राजाओं के निवास के प्रान्त को ‘ रायथान ‘ कहते थे । कर्नल जेम्स टॉड ने 1829 ई. में लिखित अपनी प्रसिद्ध ऐतिहासिक पुस्तक ‘Annals & Antiquities of Rajas’than’ में सर्वप्रथम इस भौगोलिक प्रदेश के लिए राजस्थान शब्द का प्रयोग किया। इसी पुस्तक का दूसरा नाम द सेंटर एंड वेस्टर्न राजपूत स्टेट ऑफ इंडिया था इस पुस्तक का हिंदी अनुवाद प्राचीन राजस्थान का विश्लेषण प्रसिद्ध इतिहासकार गौरीशंकर हीराचंद ओझा ने किया था कर्नल जेम्स टॉड मेवाड़ प्रांत में पोलिटिकल एजेंट थे उन्होंने घोड़े पर बैठकर घूम घूम कर इतिहास  लेखन किया इसलिए कर्नल जैन स्टैंड को घोड़े वाला बाबा के नाम से जाना जाता है
  • मुहणोत नैणसी की ख्यात ‘ व वीरभान के ‘ राजरूपक ‘ में राजस्थान शब्द का प्रयोग हुआ
  • 26 जनवरी 1950 को विधिवत रूप से इस प्रदेश का नाम राजस्थान स्वीकार किया गया 
  • 2011 की जनगणना के अनुसार राजस्थान की कुल जनसंख्य 68,548,437 थी जो देश की जनसंख्या का 5.67% है

राजस्थान की भौगोलिक स्थिति

  • राजस्थान भुमध्य रेखा के सापेक्ष उतरी गोलार्द में स्थित है
  • राजस्थान  ग्रीनविच रेखा के सापेक्ष पुर्वी गोलार्द में स्थित है ।
  • राजस्थान भारत के उत्तरी- पश्चिमी भाग में 23० 3 ′ से 30० 12 ′ उत्तरी अक्षांश( अक्षांशीय अंतराल 7० 9 ′) तथा 69० 30 ′ से 78० 17 ′ पूर्वी देशान्तर( देशान्तरीय अंतराल 8० 47 ′) के मध्य स्थित है
  •  राज्य के दक्षिण में बांसवाड़ा के मध्य से कर्क रेखा अर्थात 23 ० 30 ′ अक्षांश से गुजरती है
  • कर्क रेखा राजस्थान डूंगरपुर जिले को स्पर्श  करती है
  • कर्क रेखा राजस्थान में बांसवाड़ा जिले के कुशलगढ़ तहसील से होकर गुजरती है बांसवाड़ा शहर कर्क रेखा से राज्य का सर्वाधिक नजदीक से है इसलिए सूर्य की किरने सर्वाधिक सीधी पड़ती है जबकि श्रीगंगानगर जिला कर्क रेखा के सर्वाधिक दूरी पर स्थित है

Join Telegram
  • पुर्व से पश्चिम तक राजस्थान की चैड़ाई 869 कि. मी. है एवं सबसे पूर्वी गाँव सिलाना( राजाखेड़ा, धौलपुर) तथा सबसे पश्चिमी गाँव कटरा( फतेहगढ़, जैसलमेर) है ।
  • राजस्थान का विस्तारः राजस्थान की उत्तर से दक्षिण तक लम्बाई 826 कि. मी. है उत्तर में कोणा( गंगानगर) तथा सबसे दक्षिणी में बोरकुण्ड गाँव( कुशलगढ़, बांसवाड़ा) है ।
  • पूर्व से पश्चिम उत्तर से दक्षिण को मिलाने वाली रेखाएं नागौर जिले में एक दूसरे को काटती है राजस्थान की पूर्व से पश्चिम चौड़ाई और उत्तर से दक्षिण लंबाई में 43 किमी अंतर है
  • राजस्थान में धौलपुर जिले में सबसे पहले सूर्य उदय खिलाना गांव में होता है सबसे बाद जैसलमेर जिले के कटरा गांव में सबसे बाद सूर्य उदय एवं सबसे बाजी सूर्य अस्त होता है

अंतर्राष्ट्रीय एवं अंतर्राज्यीय सीमा:

राजस्थान राज्य की कुल सीमा 5290 किलोमीटर है जिसमें 1070 किलोमीटर की अंतरराष्ट्रीय सीमा अंतर राज्य सीमा है राजस्थान की अंतर्राष्ट्रीय सीमा पाकिस्तान से लगी है जिसे रेडक्लिफ रेखा भी कहा जाता है जोकि राजस्थान के 4 जिलों को छूती है ( बाड़मेर, बीकानेर, जैसलमेर, श्रीगंगानगर)  राजस्थान की अंतर राज्य सीमा भारत के कुल 5 राज्यों( मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, गुजरात, पंजाब, हरियाणा) से लगती है

 

5/5 - (1 vote)
Share To Help
Join Telegram

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *